Press "Enter" to skip to content

घाघरा के हपामुनी गांव में पांच दिवसीय मंडा महोत्सव में फुलखुंदी




घाघराः घाघरा प्रखंड के हपामुनी ग्राम में पांच दिवसीय मंडा महोत्सव के चौथे दिन

बुधवार को चैत्र शुक्ल चतुर्दशी की रात्रि 251 शिव भक्तो ने धधकते के अंगारों में चल कर

अपनी शिव भक्ति की अग्नि परीक्षा दी।

इसके पूर्व 251 भोक्ता मुख्य भोक्ता पट भक्त भोक्ता महादेवराव के निर्देश पर दिन रात

निर्जला उपवास के साथ महादेव मंडा चबूतरा में शिव की प्रसन्नता के लिए

लोटन सेवा धूमा सेवा तांडव नृत्य के साथ शिव भक्ति में लीन हो महादेव से अग्नि परीक्षा की अनुमति मांग

दहकती अंगारे पर चल कर अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए फूलखुंदी व्रत को सफल बनाया।

इस दौरान भगवान भोले शंकर की महिमा व कृपा से फुलखुंदी व्रतधारी शिव भक्तो के लिए दहकती अंगारे फूल तरह हो जाते हैं।

इस संबंध में पट भोक्ता महादेव उरांव ने बताया कि शिव की असीम कृपा से दहकते अंगारे सभी भक्तों को फूल सा महसूस होते हैं।

फूलखूंदी व्रत से शरीर में नयी ऊर्जा के साथ साथ शिव भक्ति का संचार होता है।

साथ ही साथ नाखून भक्तो की सभी मनोकामनाएं भगवान शिव के असीम कृपा से पूर्ण होते हैं ।

मनोवांछित वरदान के लिए फुलखुंदी व्रत के लिए लोग काफी दूर देशों से महिला पुरुष बड़ी संख्या में हपामुनी मंडा मेला में भाग लेते हैं।

घाघरा के इस मंडा मेला में भाग लेने बाहर से भी भक्त आते हैं

इधर मंडा मेला समिति हपामुनी द्वारा मेला में विभिन्न जगहों से आए लोगों के लिए

रांची के फिल्मी नागपुरी संगीत कलाकारों का कार्यक्रम भी मेला स्थल में आयोजित किया

जिसमें रात भर लोग संगीत नृत्य का जमकर आनंद उठाया मेले में लगे बिजली झूले खिलौने सहित मनोरंजन के कई साधन का भी दर्शकों ने भरपूर उपयोग किया

कार्यक्रम को सफल बनाने में मंडा मेला समिति हपामुनी मुख्य संरक्षक अध्यक्ष अवध मनी पाठक,

गौरव पाठक, बी बी पाठक, कृष्ण जीवन पाठक, पीयूष पाठक, अजीत पाठक, गुड्डू पाठक,

सुरेश मनी पाठक, राजेश मनी पाठक, रमेश मनी पाठक, रविन्द्र महली, प्रधान उरांव,

भरत मिश्रा, जमाल रॉय, राजेश महली, अमर उरांव, परमानंद साहू, हरि साहू,

सहित कई लोग सहित कई लोगों का सराहनीय योगदान रहा।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.