fbpx Press "Enter" to skip to content

बीस हजार मुस्लिम मतदाता हैं और मुझे 96 हजार वोट मिले हैः मो. जमा खां

  • भले नीतीश कुमार दावा करें लेकिन मेरे यहां विकास नहीं हुआ है

  • इलाके में सिंचाई की बड़ी समस्या को दूर करना प्राथमिकता है

  • बीएसयू की छात्र राजनीति से ऊपर उठकर यहां तक आया

  • बिहार में बसपा के एकमात्र झंडाबरदार विधायक हैं

दीपक नौरंगी

पटनाः बीस हजार मुस्लिम मतदाता और मैं 26 हजार वोटों से जीता हूं। इससे स्पष्ट है कि

मेरे इलाके में मतदाताओं ने धर्म की राजनीति को नजरअंदाज कर दिया है। यह बात

मोहम्मद जमा खां ने कही। चैनपुर विधानसभा के विधायक मोहम्मद जमा खां ने बसपा

की उपस्थिति बिहार विधानसभा में कायम रखने का काम किया है।

वीडियो में देखिये बसपा के एकमात्र विधायक ने कहा कहा

बसपा प्रमुख सुश्री मायावती के लिए वह निश्चित तौर पर महत्वपूर्ण है क्योंकि इस बार के

चुनाव में बसपा के टिकट पर जीतने वाले वह एकमात्र विधायक हैं। उन्होंने बहनजी (सुश्री

मायावती) के आभार जताते हुए कहा कि वह अपने विधानसभा क्षेत्र से 26 हजार वोटों से

विजयी हुए हैं। इस सीट पर उन्होंने भाजपा के पूर्व मंत्री को पराजित कर एक और रिकार्ड

कायम करने का काम किया है।

अपने क्षेत्र की समस्याओँ के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि उनके इलाके में सिंचाई की

व्यवस्था बिल्कुल भी नहीं हैं। इसलिए यह काम उनकी प्राथमिकता सूची में रहेगा। बात-

चीत में उन्होंने अपने क्षेत्र के एक खास गढौरा प्रखंड का उल्लेख भी किया और कहा कि

वहां अधिकांश गरीब तबके के लोग ही रहते हैं। लिहाजा वह इलाका भी बेहतर हो, उस पर

उनका फोकस रहेगा। अपने बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि वह बीएचयू से पढ़े हैं

और छात्र राजनीति से होकर मुख्यधारा की राजनीति में आये हैं। वह पिछले 18 सालों से

जनता के लिए संघर्ष करते आ रहे हैं। उनकी पारिवारिक पृष्टभूमि राजनीतिक नहीं रही

है। उनके पिता एक किसान हैं और एक किसान का बेटा होने के नाते वह लोगों की आवाज

बनकर लड़ते आये हैं। इस बार जनता ने उन्हें आर्शीवाद देकर अपना सेवक बनाकर

विधानसभा भेजा है। नीतीश कुमार के नाम अपने संबोधन में उन्होंने साफ साफ कहा कि

उनके इलाके में जो भी सांसद अथवा विधायक रहे हैं, उन्होंने विकास पर कोई काम ही नहीं

किया है।

बीस हजार मुसलमानों नहीं हर वर्ग से समर्थन मिला है

अपने विधानसभा में अधौरा इलाके की चर्चा करते हुए कहा कि इस इलाके में तो मोबाइल

नेटवर्क भी नहीं काम करता है। इसलिए वह साफ कह सकते हैं कि उनके इलाके में तो

विकास नहीं हुआ है भले ही नीतीश कुमार विकास का दावा करते हों लेकिन यह विकास

उनके इलाके में नहीं हुआ है।

धर्म की राजनीति के सवाल पर ही चैनपुर विधायक ने कहा कि उनके अपने 121 गांवों के

इलाके में मात्र बीस हजार ही मुस्लिम मतदाता है। उन्हें इस चुनाव में 96 हजार वोट मिले

हैं। इससे साफ हो जाता है कि लोगों ने धर्म की राजनीति से परे हटकर बदलाव के लिए

वोट दिया है और अपने एक भरोसेमंद बेटा को पहरेदार बनाकर यहां भेजा है। इसलिए

उनकी जिम्मेदारी इसी भरोसा पर खरा उतरने की है। शराबबंदी के सवाल पर उन्होंने कहा

कि स्थानीय स्तर पर अधिकारियो की मिलीभगत से यह कारोबार चल रहा है। लेकिन

फिर भी नीतीश कुमार को शराब के कारोबार में लिप्त अफसरों पर कार्रवाई करनी चाहिए।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from चुनावMore posts in चुनाव »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: