fbpx Press "Enter" to skip to content

अफगानिस्तान के पांच प्रांतों में 24 घंटे में 16 आतंकवादी मारे गये

काबुल : अफगानिस्तान के पांच प्रांतों में पिछले 24 घंटों में 16

तालिबानी आतंकवादी मारे गये और छह अन्य घायल हो गये। पिछले

कुछ दिनों से अफगानिस्तान के पांच प्रांतों में सैन्य गतिविधियां तेज

कर दी गयी है।

इस क्रम में ही अलग अलग ठिकानों में तालिबानी आतंकवादी मारे

गये हैं। रक्षा मंत्रालय ने बुधवार को जारी एक वक्तव्य में कहा कि

मंगलवार सुबह से अब तक 16 आतंकवादी मारे गये हैं। हेल्मंड प्रांत के

गर्मसेर जिले के शिर मोहम्मद खान गांव और खानशेन जिले के शिर

काली गांव में पांच आतंकवादी मारे गये हैं। हेल्मंड के ही सांगिन जिले

में अफगान नेशनल आर्मी की कार्रवाई में दो तालिबानी आतंकवादी

मारे गये और पांच अन्य घायल हो गये। दक्षिणी प्रांत कंधार के

खाकरेज जिले में वायुसेना की कार्रवाई में दो आतंकवादी मारे गये और

विस्फोटकों से लदे एक वाहन में विस्फोट हो गया। हेरात प्रांत के

चिश्ती शरीफ जिले में हवाई हमले में दो आतंकवादी मारे गये और

विस्फोटकों का एक डिपो नेस्तनाबूद हो गया। उत्तरी प्रांत फरयाब

के अल्मार जिले में सुरक्षा बलों के अभियान में पांच तालिबानी

आतंकवादी मारे गये और एक अन्य घायल हो गया। अफगानिस्तानी

सुरक्षा बलों ने हाल में तालिबानी आतंकवादियों के खिलाफ सुरक्षा

अभियान तेज कर दिया है। सुरक्षा बल देश के बड़े ग्रामीण हिस्से पर

कब्जा जमाये हुए तालिबान का पूरी तरह खात्मा करने के लिए

प्रयासरत हैं।

अफगानिस्तान के पांच प्रांतों नहीं सभी में हमला तेज

अफगानिस्तान के सभी प्रांतों में इस जैसी कार्रवाई एक साथ प्रारंभ की

गयी है। इससे अलग अलग ठिकानों पर जमे तालिबानी आतंकवादियों

के शिविरों पर निशाना साधा गया है। दूसरी तरफ तालिबान

आतंकवादियों की पकड़ कमजोर होने तथा अनेक लोगों के हथियार

डालने के बाद भी अनेक आतंकवादियों ने भेष बदलकर खुद को

आइएस के गुट में शामिल कर लिया है। वैसे नाम बदलने के बाद भी ये

तमाम गुट दरअसल तालिबान से ही जुड़े रहे हैं। तालिबान की ताकत

कम होने की मुख्य वजह अफगानिस्तान की सेना एवं अमेरिकी रक्षा

समूहों पर ऊंचाई पर बने तालिबान शिविरों पर हवाई हमला करना है।

इससे उनकी ताकत काफी कम हुई है। दूसरी तरफ स्थिति को भांपते

हुए अब तालिबान ने भी सुरक्षा एजेंसियों को निशाना बनाने के साथ

साथ सार्वजनिक समारोहों में भी बम विस्फोट करना प्रारंभ कर दिया

है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from आतंकवादMore posts in आतंकवाद »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!