fbpx Press "Enter" to skip to content

औरंगाबाद के पास आज सुबह मालगाड़ी से कट कर 15 मजदूरों की मौत

औरंगाबादः औरंगाबाद के पास बदनापुर करमाड रेलखंड में एक मालगाड़ी से कट कर 15

मजदूरों की मौत हो गयी। इस हादसे में गंभीर रूप से घायल एक अन्य मजदूर को

अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रेलवे के सूत्रों ने बताया कि सुबह पांच बज कर 22

मिनट पर चेर्लापल्ली को जा रही एक मालगाड़ी के लोकोपायलट ने सूचित किया कि नांदेड़

मंडल के अंतर्गत बदनापुर से करमाड के बीच किलोमीटर संख्या 139/4 पर 15 से 20 लोग

ट्रैक पर सो रहे थे जिनमें से ट्रेन के नीचे आकर 14 लोगों की मौत हो गयी है और दो लोग

घायल हो गये हैं। बाद में एक घायल ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इस दर्दनाक

हादसे पर उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडु, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री

शिवराज सिंह चौहान, कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त

किया है। सूत्रों ने बताया कि ये लोग मध्यप्रदेश के उमरिया एवं शहडोल जिले के मजदूर थे

जो जालना में एसआरजी कंपनी में काम करते थे। सूत्रों के अनुसार ये लोग कल शाम सात

बजे पैदल ही जालना से निकले थे। वे बदनापुर तक सड़क मार्ग पर चलते हुए आये थे और

बाद में औरंगाबाद की ओर रेलवे ट्रैक के किनारे चलने लगे। करीब 36 किलोमीटर तक

चलने के बाद वे बहुत थक गये और ट्रैक पर कुछ देर विश्राम करने के लिए बैठ गये। बाद

में उन्हें गहरी नींद आ गयी। इनमें से 14 लोग ट्रैक पर सो गये, दो लोग ट्रैक के बिल्कुल

समीप लेट गये जबकि तीन लोग ट्रैक से दूर लेटे थे।

औरंगाबाद के पास रेलवे ट्रेक पर बैठे मजदूरों को नींद आ गयी थी

सूत्रों के अनुसार पांच बजे के बाद जब वहां से मालगाड़ी गुजरी तो ट्रैक पर लेट 14 मजदूरों

की कट कर मौत हो गयी जबकि ट्रैक के समीप लेटे दोनों मजदूर बुरी तरह से जख्मी हो

गये जिन्हें बाद में औरंगाबाद जिले के घाटी स्थित सरकारी अस्पताल में ले जाया गया।

दोनों घायलों में से एक की उपचार के दौरान मौत हो गयी। पटरी से दूर लेटे तीनों लोग

जीवित हैं। घटना की जानकारी मिलते ही रेल सुरक्षा बल के उप सुरक्षा आयुक्त, स्थानीय

पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गये। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इस घटना

की उच्चस्तरीय जांच तथा घायल मजदूर के उपचार के हरसंभव जरूरत का ध्यान रखने

के आदेश दिये हैं। श्री गोयल ने इस हादसे पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए दिवंगत

आत्माओं की शांति की प्रार्थना की है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हादसे की

सूचना मिलते ही रेल मंत्री श्री गोयल से फोन पर चर्चा की और मृतक मजदूरों के परिवार

को 5-5 लाख रुपए देने की घोषणा की है। सूत्रों के अनुसार मध्य प्रदेश सरकार औरंगाबाद

एक विशेष विमान और टीम भेज रही है जो कि घायल मजदूर के उपचार और मृतक

मजदूरों के पार्थिव शरीर को उनके घर पहुंचाने समुचित व्यवस्था करेगी। श्री चौहान

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के संपर्क में हैं।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from हादसाMore posts in हादसा »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!