fbpx Press "Enter" to skip to content

रिम्स में 14 लोगों की कोविड-19 की जांच हुई, 13 लोगों की रिज़ल्ट निगेटिव तो एक का होगा रिपीट टेस्ट

रांची : रिम्स में रविवार को कोरोना के 14 संदिग्ध मरीजों के सैंपल लिये गये। 14 मरीजों

में 13 के सैंपल निगेटिव पाये गये हैं। एक संदिग्ध को रिपीट टेस्ट के लिए कहा गया है।

सोमवार को दोबारा इस मरीज का सैंपल लिया जायेगा और जांच की जायेगी। जिस

संदिग्ध की रिपोर्ट दोबारा ली जानी है उसे रिम्स के आइसोलेशन वार्ड में ही रखा गया है।

रिम्स से आयी रिपोर्ट से यह तय है कि अभी तक कोरोना के एक भी पॉजिटिव मरीज

झारखंड में नहीं मिला है। राज्य सरकार की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार कुल 73251

लोग बाहर से आये हैं जिनकी स्क्रीनिंग सरकार कर चुकी है। जारी रिपोर्ट के अनुसार

कोरोना प्रभावित राज्यों से आये कुल 911 लोगों की निगरानी की जा रही है। निगरानी

किये जा रहे लोगों में से 163 लोगों का 28 दिन का ऑबज़रवेशन पीरियड समाप्त हो

चुका है। अन्य पर निगरानी रखी जा रही है। 272 लोगों को राज्य के विभिन्न अस्पतालों

में क्वारेंटाइन किया गया है जिसके लिए डॉक्टर पूरी तैयारी से कोशिशों में लगे है।

क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में बड़ी संख्या में बेड तैयार

राज्य में क्वारंटाइन सेंटर के रूप में अभी तक कुल 1469 बेड ही चिन्हित किये जा सके हैं।

इसके अलावा बड़ी संख्या में क्वारेंटाइन बेड एक से दो दिन में तैयार कर लिये जायेंगे।

सरकार जिला प्रशासन के साथ इसके लिए अभियान के तहत जुटी है। मेडिकल कॉलेजों में

आइसोलेशन बेड कुल 96 हैं। जिला अस्पतालों में 200 आइसोलेशन बेड चिन्हित किये गये

हैं। निजी अस्पतालों में कुल 261 आइसोलेशन बेड चिन्हित हैं। मतलब सभी प्राइवेट और

निजी को मिला कर 567 आइसोलेशन बेड ही सरकार के पास चिन्हित हैं। इसके अलावा

राज्य में कई स्थानों को राज्य सरकार आइसोलेशन सेंटर और क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में

स्थापित करने पर जोर दे रही है। खेलगांव में 2 हजार से अधिक बेडों का आइसोलेशन वार्ड

तैयार कर लिया गया है। कई अन्य को चिन्हित किया जा रहा है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat