fbpx Press "Enter" to skip to content

सबसे लंबे समय तक असम के मुख्यमंत्री रहे तरुण गोगोई का निधन

  • भूपेन गोस्वामी

गुवाहाटी: सबसे लंबे समय तक असम के मुख्यमंत्री रहे तरुण गोगोई का सोमवार को

निधन हो गया। वह 86 वर्ष के थे। असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने मीडिया

से बात करते हुए पुष्टि की कि पूर्व सीएम का निधन शाम करीब 5:34 बजे हुआ। बता दें

कि उनकी स्थिति पहले से ही नाजुक चल रही थी। यही वजह है कि राज्य के मुख्यमंत्री

सर्बानंद सोनोवाल अपना सरकारी कार्यक्रम डिब्रूगढ़ दौरा बीच में ही छोड़ गुवाहाटी वापस

लौट आए थे। वह अपनी पत्नी, बेटे, बेटी, बहू और पोते-पोतियों से बचे हैं। गोगोई को

कोविड-19 से बरामद होने के बाद दूसरी बार 1 नवंबर को गौहाटी मेडिकल कॉलेज और

अस्पताल (जीएमसीएच) में भर्ती कराया गया था।

कोरोना से पीड़ित होने के बाद अचानक ऑक्सीजन लेबल कम हो गया

हालांकि, 31 अगस्त को ऑक्सीजन लेबल में अचानक गिरावट के साथ उनकी स्वास्थ्य

स्थिति खराब हो गई थी। इसके बाद अस्पताल के अधिकारियों ने प्लाज्मा थेरेपी दी थी।

असम के सबसे लंबे समय और तीन बार के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई ने 2001 से 2016 तक

राज्य की सेवा की थी।। अपने पांच दशक लंबे राजनीतिक जीवन में उन्हें पी.वी. नरसिम्हा

राव की सरकार 1991 से 1996 तक केंद्रीय मंत्री के रूप में देश की भी सेवा की थी। उन्होंने

कलियाबोर और जोरहाट निर्वाचन क्षेत्र से संसद सदस्य (सांसद) के रूप में छह कार्यकाल

दिए थी। 1976 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नेतृत्व में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी

(AICC) के संयुक्त सचिव चुने जाने के बाद वे राष्ट्रीय कद के साथ एक राजनीतिक नेता

बन गए। बाद में उन्होंने प्रधानमंत्री राजीव गांधी के तहत 1985 से 1990 तक एआईसीसी

के महासचिव के रूप में कार्य किया।असम में मुख्यमंत्री के रूप में लगातार 15 साल पूरे

करने और सबसे लंबे समय तक सेवा करने के बाद, 18 मई, 2016 को राज्य में एक प्रमुख

पद पर रहने वाले उनके राजनीतिक कैरियर का समापन हुआ।

सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री के अलावा केंद्र में भी मंत्री रहे

दिवंगत वयोवृद्ध कांग्रेसी ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1968 में की थी जब

उन्हें जोरहाट नगरपालिका बोर्ड के सदस्य के रूप में नियुक्त किया गया था और असम में

जोरहाट स्थिरता से संसद सदस्य के रूप में चुना गया था। उल्लेख करें कि, आज सुबह

असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का स्वास्थ्य स्थिति सोमवार की सुबह हालत

बिगड़ने का समाचार मिलने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्थिति का जायजा लिया।

और असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनवाल से कहा कि उनकी यथासंभव देखभाल करें।

गोगोई के सांसद बेटे गौरव गोगोई से बात करते हुए, प्रधान मंत्री मोदी ने गोगोई के

स्वास्थ्य की तत्काल सुधार के लिए ईश्वर से प्रार्थना की थी। उधर,प्रधानमंत्री मोदी के

फोन मिलने के बाद और पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के खराब स्वास्थ्य को देखते हुए

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनवाल ने डिब्रूगढ़ के सभी कार्यक्रम रद्द कर गुवाहाटी लौट रहे हैं।

अभी तरुण गोगोई निधन होने के समाचार मिलने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ,केंद्रीय

गृह मंत्री अमित शाह ,भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस के अध्यक्ष सोनिया गांधी

,पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ,कांग्रेस के युवा नेता राहुल गांधी सहित सभी लोगों ने

असम के भूतपूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के निधन पर शोक व्यक्त किया है।असम के

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि वे असम के पूर्व

मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के निधन पर गहरा शोक व्यक्त कर रहे हैं। राज्य ने एक अनुभवी,

सक्षम और कुशल राजनीतिक नेता खो दिया है, सीएम सोनोवाल ने कहा। असम के लोग

राज्य के प्रति उनकी प्रतिबद्ध सेवा और योगदान को हमेशा याद रखेंगे। उनकी हास्य,

मिलनसार और मुखर प्रकृति की भावना ने सभी को आकर्षित किया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from असमMore posts in असम »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

2 Comments

  1. […] सबसे लंबे समय तक असम के मुख्यमंत्री रह… भूपेन गोस्वामी गुवाहाटी: सबसे लंबे समय तक असम के मुख्यमंत्री रहे तरुण गोगोई का सोमवार को निधन … […]

  2. […] सबसे लंबे समय तक असम के मुख्यमंत्री रह… भूपेन गोस्वामी गुवाहाटी: सबसे लंबे समय तक असम के मुख्यमंत्री रहे तरुण गोगोई का सोमवार को निधन … […]

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: