Press "Enter" to skip to content

शुभमन गिल प्रथम श्रेणी में दोहरा शतक जड़ने वाले सबसे युवा भारतीय







त्रिनिदादः शुभमन गिल की नाबाद 204 रन और कप्तान हनुमा विहारी की नाबाद 118 रन की शतकीय

पारियों की बदौलत भारत ए ने अपनी दूसरी पारी चार विकेट पर 365 रन का विशाल स्कोर बनाकर घोषित

करने के साथ वेस्टइंडीज ए के खिलाफ तीसरे गैर आधिकारिक टेस्ट के तीसरे दिन मैच में

अपना शिकंजा मजबूत कर लिया है।

यहां ब्रायन लारा स्टेडियम में चल रहे मुकाबले में शुभमन ने 248 गेंदों की पारी में 19 चौके

और दो छक्के लगाकर नाबाद 204 रन बनाये

और इसी के साथ वह प्रथम श्रेणी क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे युवा भारतीय बल्लेबाज बन गये हैं।

उन्होंने 19 वर्ष 334 दिन की आयु में यह कामयाबी हासिल की है।

इससे पहले यह रिकार्ड गौतम गंभीर के नाम था जिन्होंने वर्ष 2002 में इंडिया बोर्ड अध्यक्ष एकादश

की ओर से जिम्बाब्वे के खिलाफ 20 वर्ष 124 दिन की आयु में 218 रन की दोहरी शतकीय पारी खेली थी।

इससे पहले भारत ए ने सुबह अपनी पारी की शुरूआत कल के तीन विकेट पर 23 रन से आगे बढ़ाते हुये की।

शाहबाज नदीम पांच रन और शुभमन ने दो रन से अपनी पारियों को आगे बढ़ाया।

नदीम अपने स्कोर में इजाफा नहीं कर सके और चौथे बल्लेबाज के रूप में जल्द आउट हो गये।

उन्होंने केवल 13 रन बनाये और अकीम फ्रेजर ने उन्हें बोल्ड कर भारत ए के 50 रन पर चार विकेट निकाल दिये।

शुभमन गिल ने विहारी के साथ मिलकर पूरी स्थिति की बदल दी

हालांकि यहां से भारत ए के लिये शुभमन और कप्तान विहारी ने पूरी स्थिति पलट डाली

और फिर कोई विकेट नहीं गिरने दिया।

दोनों बल्लेबाजों ने धुआंधार पारियों के साथ पांचवें विकेट के लिये 350 रन की जबरदस्त तिहरी

शतकीय साझेदारी करते हुये भारत ए को 90 ओवर के खेल में चार विकेट के नुकसान पर

365 की मजबूत स्थिति में पहुंचाया और साथ ही पारी भी घोषित कर दी।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com