विश्व स्वास्थ्य संगठन यमन में स्वास्थ्य सुविधाएं देता रहेगा

विश्व स्वास्थ्य संगठन यमन में स्वास्थ्य सुविधाएं देता रहेगा

साना: विश्व स्वास्थ्य संगठन यमन के युद्धग्रसित क्षेत्रों में सामान्य स्वास्थ्य जरूरतों की



सुविधाओं को उपलब्ध करवाने के लिये काम करता रहेगा।

यमन में पिछले साढ़े तीन साल के युद्ध और संघर्ष के परिणामस्वरूप तबाही

और आधी स्वास्थ्य सुविधाओं के बंद कर दिये जाने से लाखों लोगों पीड़ित हैं।

यमनियों के लिये बुनियादी सेवाओं को बहुत सीमित कर दिया गया है जिसके परिणामस्वरूप यहां कि स्थिति बेहद खराब हो गयी है।

साना के अजल जिले में अजल स्वास्थ्य केंद्र विश्व स्वास्थ्य संगठन के समर्थन से

क्षेत्र में जरूरी दवाइयां एवं मेडिकल आपूर्ति और स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रोत्साहन राशि देकर समर्थन कर रहा है।

केंद्र अलग-अलग उम्र के हैजा रोगियों के साथ अतिसंवेदनशील के साथ जुड़ा हुआ।

इन रोगियों को इस स्वास्थ्य सुविधा केंद्रों तक पहुंचने के लिए घंटों तक यात्रा करना पड़ती थी,

लेकिन अजल स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्य कर्मचारियों की मदद से इनको उचित सुविधाएं उपलब्ध हो रही हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा यमन में स्थापित किये गये 176 स्वास्थ्य सुविधाओं में सना में अजल स्वास्थ्य केंद्र एक है।

अस्पतालों में जरूरी स्वास्थ्य आवश्यकताओं और सेवाओं को प्रदान करके जिला स्तर पर

यमन की स्वास्थ्य प्रणाली को मजबूत करने के लिए सेवा कर रहा है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन हालत से चिंतित

विश्व स्वास्थ्य संगठन के लोगों के मुताबिक यहां की स्थिति अत्यंत दयनीय है।

लगातार जारी युद्ध की वजह से इस देश के अनेक इलाकों में अब ईलाज की न्यूनतम सुविधाएं भी मौजूद भी नहीं है।

इसलिए यहां के नागरिकों को बिना ईलाज के यूं ही मरने के लिए तो कतई नहीं छोड़ा जा सकता।



Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.