fbpx Press "Enter" to skip to content

लंदन ब्रिज पर हुए हमले में दो लोगों की मौत : पुलिस

लंदनः लंदन ब्रिज पर हुए हमले में दो लोगों की मौत हो गयी है। मेट्रोमोलिटन पुलिस के आयुक्त क्रेसिडा दिक
ने शुक्रवार को लंदन ब्रिज हमले में दो लोगों के मारे जाने की पुष्टि की। इस हमले में दो लोगों की मौत के
अलावा अन्य तीन घायल हुए हैं जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

श्री दिक ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमारे आतंकवाद रोधी जवान इस हमले में अपनी जान गंवाने वाले
लोगों की पहचान कर मृतक के परिजनों की सहायता करेंगे।’’ उन्होंने कहा कि हमले के बाद लंदन में
एहतियातन सुरक्षा बढ़ा दी गयी और तलाशी अभियान जारी है।

श्री दिक ने कहा, ‘‘आने वाले दिनों में और भी पुलिस बल देखने को मिलेंगे और हर इलाके में सुरक्षा बल
तैनात होंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम इस बात की तहकीकात कर रहे हैं और यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि
यहां सही मायने में क्या हुआ था और इसमें किसी अन्य के शामिल होने की गुंजाइश है या नहीं।

इसी कारण हमने हमले के बाद लंदन ब्रिज के क्षेत्र में तलाशी अभियान जारी रखा।’’ लंदन के मेयर सादिक
खान ने भी हमले में घायल हुए दो लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा, ‘‘लंदन आतंकवाद से
कभी नहीं उपजेगा, आतंकवाद कभी नहीं जीतेगा।’’

इस बीच ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिश जॉनसन ने कहा कि मामले की जांच जारी है और जल्द ही लोगों को
न्याय मिलेगा। उन्होंने कहा कि मेट्रोपोलिटियन पुलिस की जांच जारी है। पुलिस ने इससे पहले बताया कि
उन्होंने इस मामले में एक संदिग्ध को मार गिराया है।

लंदन ब्रिज के हमलावर की पहचान की गयी

ब्रिटेन में पुलिस ने लंदन ब्रिज पर हमले को अंजाम देने वाले व्यक्ति की पहचान कर ली है जिसे आतंकवाद
संबंधी अपराधों के लिए पहले ही दोषी ठहराया जा चुका था। लंदन पुलिस ने शुक्रवार को हमला करने वाले
व्यक्ति की पहचान 28 वर्षीय उस्मान खान के रूप में की है।

पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि व्यक्ति ने ब्रिटेन की राजधानी में लंदन ब्रिज पर और इसके समीप कई लोगों
पर चाकू से हमला किया। इसके बाद सहायक आयुक्त नील बसु ने पुष्टि की कि व्यक्ति को मौके पर ही गोली
मार दी गई थी और इस घटना को आतंकवादी हमला माना गया है।

पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘‘हम अब 28 वर्षीय उस्मान खान के रूप में संदिग्ध की पहचान की पुष्टि करने की
स्थिति में हैं, जो स्टैफोर्डशाीरे क्षेत्र में रहता था। ’’ उन्होंने बताया कि व्यक्ति को 2012 में आतंकवाद संबंधी
अपराधों के लिए दोषी ठहराया गया था और उसे दिसंबर 2018 में रिहा कर दिया गया था।

पुलिस इस बात का पता लगा रही है कि व्यक्ति ने किस तरह हमले की योजना बनाई थी। प्रारंभिक सबूतों के
अनुसार व्यक्ति शुक्रवार दोपहर को लंदन के फिशमोनगेर हॉल में एक बैठक में शामिल हुआ और वहीं से वह
हमला करते हुए लंदन ब्रिज तक जा पहुंचा।

हमलावर को निरस्त्र करने वाले नागरिकों का धन्यवाद : खान

लंदन के मेयर सादिक खान ने शुक्रवार को लंदन ब्रिज के हमलावर को निरस्त्र करने वाले नागरिकों का धन्यवाद
दिया। स्थानीय समयानुसार आज दोपहर बाद लंदन ब्रिज में एक व्यक्ति ने गोलीबारी की जिसमें कई लोग घायल
हो गए थे।

मेट्रोपोलिटन पुलिस के सहायक आयुक्त नील बासु ने बाद में हमलावर के मरने की पुष्टि की और इसे आतंकी
हमला करार दिया। श्री खान ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘आज इस हमले के दृश्य के बीच लंदन वासियों
ने वीरता का परिचय दिया। उन्होंने बिना डरे हमलावर को निरस्त्र किया। मैं सभी लंदनवासियों की ओर से उन
सभी लोगों को धन्यवाद देता हूं।’’

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat