मिनटों में भर जाएंगे शरीर के जख्म, थ्रीडी स्किन प्रिंटर विकसित

स्किन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
नई दिल्ली : अनुसंधानकर्ताओं ने पहली बार हल्का और साथ ले जा सकने वाला एक ऐसा
त्रिआयामी (थ्रीडी) स्किन प्रिंटर विकसित किया है जो जख्मों को ढंकने और चंद मिनटों
में भरने के लिए ऊतकों की परतें उन पर चढ़ा सकता है।
जिन मरीजों के जख्म बहुत गहरे होते हैं, उनकी त्वचा की तीनों परतें-एपिडर्मिस (बाहरी परत),
डर्मिस (एपिडर्मिस और हाइपोडर्मिस के बीच की परत) और हाइपोडर्मिस (अंदरूनी परत)
बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो सकती हैं।

जख्म भरने में स्किन प्रिंटर सहायक

ऐसे जख्मों के लिए अभी जो इलाज किया जाता है, उसे स्प्लिटथिकनैस स्किन ग्राफ्टिंग (एसटीएसजी) कहा जाता है।
इसमें किसी सेहतमंद डोनर की त्वचा को एपिडर्मिस की सतह और उसके नीचे मौजूद परत
डर्मिस के कुछ हिस्सों पर प्रत्यारोपित किया जाता है।
बड़े जख्मों पर इस प्रक्रिया को अपनाने के लिए बेहद सेहतमंद त्वचा की जरूरत पड़ती है
जो तीनों परतों के पार तक पहुंच सके और इसके लिए पर्याप्त त्वचा बहुत मुश्किल से मिलती है।
इससे एक बड़े हिस्से पर परत नहीं चढ़ पाती और जख्म भरने के बेहतर परिणाम सामने नहीं आते।
कनाडा की यूनिवर्सिटी आॅफ टोरंटो के एक्सेल गुएंथेर बताते हैं कि नए बायोप्रिंटर बहुत भारी होते हैं।
कम गति से काम करते हैं। बहुत महंगे हैं और क्लिनिकल अनुप्रयोगों के साथ मेल नहीं खाते।
उनकी टीम ने एक नया स्किन प्रिंटर तैयार किया है।
गुएंथेर का दावा है कि उनका स्किन प्रिंटर एक ऐसी तकनीक है जो इन रुकावटों से पार
पा सकता है और जख्म भरने की प्रक्रिया में सुधार कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.