Press "Enter" to skip to content

ऑस्ट्रिया में वैक्सिन नहीं लेने वालों पर लॉकडाउन लागू




वियेनाः ऑस्ट्रिया जिनलोगों ने अब तक वैक्सिन नहीं लिया है, उन्हें अब लॉकडाउन में रहना पड़ेगा। अचानक से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद सरकार ने ऐसा फैसला लिया है।




सोमवार की रात से यह प्रतिबंध लागू कर दिया गया है। इसके साथ ही 12 वर्ष के कम उम्र के बच्चों को भी घरों में ही रहने क हिदायत दी गयी है।

ऑस्ट्रिया की सरकार ने सभी से जल्द से जल्द वैक्सिन लगाने का अनुरोध भी किया है। दरअसल देश में फिर से इस वैश्विक महामारी के लौटने का संकेत मिलते ही एहतियात के तौर पर यह सारा प्रबंध किया गया है।

यहां की स्वास्थ्य सेवा का अभी यह हाल है कि अगर फिर से कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी तो उनके ईलाज के लिए फिलहाल कोई अतिरिक्त इंतजाम नहीं हैं। साथ ही कोरोना मरीजों के काम आने वाले स्वास्थ्यकर्मी भी पर्याप्त संख्या में नहीं है।

इसी वजह से ऑस्ट्रिया में वैक्सिन नहीं लेने वालों के खिलाफ यह प्रतिबंध लगाया गया है। दरअसल सरकार की तरफ से काफी समय से लोगों को वैक्सिन लगाने की अपील की जाती रही है।




इसके बाद भी देश में अनेक लोगों ने अब तक टीका नहीं लगाया है। जर्मनी और रूस में कोरोना विस्फोट के बाद अब यूरोप के अन्य देश भी इस बारे में सतर्क हो रहे हैं क्योंकि ऐसा प्रतीत होता है कि कोरोना फिर से लौट रहा है।

वियेना में चांसलर अलेकजेंडर शेलेनबर्ग ने बताया कि सरकार की जिम्मेदार लोगों की सुरक्षा करना है। इसी वजह से वैक्सिन नहीं लेने वालों को ऑस्ट्रिया में अब प्रतिबंध के तहत लॉकडाउन मे रहना पड़ेगा।

ऑस्ट्रिया में बीस लाख लोगों पर होगा इसका असर

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक सरकार के इस फैसले से ऑस्ट्रिया के अल्पाइन क्षेत्र में करीब बीस लाख लोगों को घरों के अंदर रहना पड़ेगा जबकि इस प्रांत की कुल आबादी करीब 89 लाख है।

यह लॉकडाउन अगले दस दिनों तक प्रभावी रहेगा। इस दौरान पुलिस गश्त करती रहेगी और बाहर आने वालों से यह जांच की जाएगी कि उन्होंने वैक्सिन का टीका लगा लिया है। जिनलोगों ने वैक्सिन नहीं लिया है अगर वे सड़कों पर पकड़े जाते हैं तो उनपर 1450 यूरो का अर्थदंड किया जाएगा। बता दें कि पूरे यूरोप में ऑस्ट्रिया ही टीकाकरण के मामले में सबसे पिछड़ा हुआ है। यहां की सिर्फ 65 प्रतिशत आबादी को अब तक वैक्सिन के टीके लग पाये हैं। रविवार को एक साथ 11552 कोरोना संक्रमितों के पाये जाने के तुरंत बाद सरकार ने यह आपातकालीन इंतजाम किया है ताकि कोरोना को और फैलने से रोका जा सके।



More from HomeMore posts in Home »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: