Press "Enter" to skip to content

इलिश मछली बचाने गये दल पर चोरों का हमला




राष्ट्रीय खबर

ढाकाः इलिश मछली को पकड़ने पर अभी बांग्लादेश में रोक है। इस रोक पर निगरानी के लिए कोस्ट गार्ड के नाव भी काम कर रहे हैं। कोस्ट गार्ड के एक ऐसे ही नाव पर मछली चोरों के एक दल ने हमला कर दिया।




सोमवार की शाम को यह हमला बरिशाल के हिजला इलाके मे मेघना नदी में हुआ। वैसे आरोप यह भी है कि इस हमले के बाद हथियारबंद कोस्ट गार्ड के जवान पास के गांव में घुस गये और वहां लोगों को जबरदस्त तरीके से पीटा।

वैसे इलिश मछली बचाने के अभियान में लगे ट्रलर के दो लोग मछली चोरों के हमले में घायल हुए हैं। आज शिकायत मिली है कि कोस्ट गार्ड के हमले में एक गर्भवती महिला फरजाना बेगम भी गंभीर रुप से घायल हुई हैं, जिन्हें स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दूसरी तरफ कोस्ट गार्ड के अधिकारियों ने हमले की घटना से इंकार करते हुए कहा कि हमला करने वालों ने ही खुद को बचाने के लिए कोस्ट गार्ड द्वारा हमला करने की यह झूठी शिकायत दर्ज करायी है।

हिजला जिला के मछली अधिकारी अब्दुल हलीम ने कहा कि बांग्लादेश में अभी इलिश मछली बचाने का अभियान चल रहा है। इस दौरान मछुआरों को विकल्प के तौर पर भोजन के लिए चावल भी उपलब्ध कराया गया है। यह मौसम मादा इलिश के अंडे देने का समय है।

इलिश मछली पकड़ने पर अभी देश में रोक है

कुछ वर्षों से इस किस्म की कड़ाई की वजह से देश में मछली का उत्पादन का लगातार रिकार्ड बन रहा है।




इसी जिम्मेदारी के तहत कोस्ट गार्ड और मछली विभाग के अफसर दो अलग अलग ट्रलरों पर सवार होकर गश्ती करने निकले थे।

दक्षिण बाउशिया गांव के पास ही नदी के तट पर इस दल पर अचानक हमला किया गया। दरअसल वहां के कुछ लोग चोरी छिपे मछली पकड़ रहे थे।

अचानक गश्ती दल के पहुंच जाते ही इन मछुआरों ने गश्ती दल पर हमला कर दिया। इस हमले में अभियान के कार्यकर्ता मोहम्मद नुरुल इस्लाम और ट्रलर का मांझी मोहम्मद सुलेमान घायल हुआ है।

हमले के बाद गश्ती दल के लोग घायलों के ईलाज को लेकर व्यस्त थे।

घटना को लेकर तनाव होने के बाद हिजला के थाना प्रभारी मोहम्मद युनूस भी घटनास्थल पर पहुंचे थे और एहतियात के तौर पर वहां पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।



More from पर्यावरणMore posts in पर्यावरण »
More from बांग्लादेशMore posts in बांग्लादेश »
More from मौसमMore posts in मौसम »
More from व्यापारMore posts in व्यापार »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: