आदिवासियों में आदिवासियत का स्वाभिमान जरूरी – डॉ दिवाकर मिंज

आदिवासियों को आत्मसम्मान हो
Spread the love

बेड़ो – आदिवासियों में आदिवासियत की स्वाभिमान का होना बहुत जरूरी है



जब हमें आदिवासी होने पर स्वाभिमान होगा गर्व होगा तब हमारा आत्मविश्वास प्रबल होगा ।

उक्त बातें बेड़ो के विवाह मंडप में आदिवासी समाज की ओर से आयोजित विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर

समारोह को संबोधित करते हुए बतौर मुख्य अतिथि शिक्षाविद और रांची विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर डॉ दिवाकर मिंज ने कही ।

उन्होंने कहा कि आदिवासियों को अपनी बातें रखने के लिए शराब की जरूरत पड़ती है बिना शराब के कुछ लोग बोल नहीं पाते ।

हमें शराब को त्यागकर अपने ऊपर भरोसा रखना चाहिए आत्मविश्वास होना चाहिए ।

सरकार आदिवासियों के लिए बहुत सारी योजनाएं चलाती है उन सभी योजनाओं के बारे में हमें पूरी जानकारी नहीं है ।

जानकारी के अभाव में हम सरकार को कोसते हैं कि आदिवासियों के हक और अधिकार को छीना जा रहा है

हमें सरकार की ओर से कुछ नहीं मिल रहा है लेकिन ऐसी बातें नहीं है ।

आदिवासियों को सरकारी योजनाओं की जानकारी हो

विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर डॉ दिवाकर मिंज के अलावे पद्मश्री सिमोन उरांव ,

पूर्व प्रखंड विकास पदाधिकारी किस्टो कुमार बेसरा , वर्तमान प्रखंड विकास पदाधिकारी विजय कुमार सोनी ,

अंचलाधिकारी आसीम बाड़ा , प्रखंड प्रमुख महतो भगत उप प्रमुख धनंजय कुमार राय ,

प्रसिद्ध लोक कलाकार पवन कुमार राय , मुखिया सुशांति भगत सजर तिर्की , बुधराम बाड़ा समेत

सभी उपस्थित मुखिया को बिरसा मुंडा का चित्र व बुके देकर सम्मानित किया गया ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता शिशिर लकड़ा संचालन मुन्ना बड़ाईक और पंचू मिंज तथा स्वागत भाषण

विधानसभा स्तरीय सांसद प्रतिनिधि राकेश भगत ने किया ।

इस मौके पर सम्मानित पदाधिकारियों समेत आयोजक राकेश भगत जुगेश उरांव मुन्ना बडाईक

उप प्रमुख धनंजय कुमार राय देवनीश तिग्गा समेत कई लोगों ने संबोधित किया ।

कार्यक्रम के दौरान मांदर की थाप पर लोग खूब थिरके ।

रिशु भगत मेमोरियल कॉलेज की छात्राओं समेत आदिवासी सांस्कृतिक नृत्य दल देवगांव ,

सरना जागृति उरांव ग्रुप बलान्दु , मां सरस्वती सांस्कृतिक दल हरहंजी समेत

विभिन्न शिक्षण संस्थानों के छात्राओं ने अपनी प्रस्तुति से लोगों का मन मोह लिया ।

Please follow and like us:


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.