आजसू अध्यक्ष सुदेश महतो ने कहा दिल-दिमाग में निर्मल दा के विचारों को जिंदा रखेंगे

आजसू ने निर्मल महतो को याद किया
Spread the love

रांची: आजसू पार्टी के केंद्रीय अध़्यक्ष सुदेश कुमार महतो ने कहा है कि



वीर सपूत और झारखंड आंदोलन के प्रणेता निर्मल दा के विचारों को हर पल दिल और दिमाग में जिंदा रखेंगे।

निर्मल दा ने अलग राज्य की लड़ाई के लिए जो अलख जगाई थी, उसे भूला नहीं जा सकता।

अब अलग राज्य तो मिल गया, लेकिन उनकी परिकल्पना साकार होना बाकी हैं।

उनके सपनों को मुकाम तक पहुंचाने के लिए आजसू पार्टी प्रतिबद्ध है।

सिल्ली में निर्मल महतो की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने और भावपूर्ण श्रद्धांजलि देने के बाद

विचार प्रकट करते हुए केंद्रीय अध़्यक्ष ने कहा कि यही मौका है संकल्प लेने का।

एक-एक कार्यकर्ता झारखंडी जनमानस के साथ चलने और भावना के अनुरूप

झारखंड के नव निर्माण का वचन लें ताकि निर्मल दा के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित की जा सके।

उन्होंने कहा कि हमारे बीच भले ही निर्मल दा नहीं हैं, लेकिन उनके विचार कभी मिट नहीं सकते।

उन्होंने अलग राज्य का न सिर्फ सपना देखा-दिखाया था। बल्कि इसके लिए हर स्तर पर संघर्ष का खाका भी खींचा था।

अलग झारखण्ड राज्य के गठन में निर्मल दा के नेतृत्व और योगदान के लिए हम सभी झारखण्डवासी हमेशा ऋणि रहेंगे।

मौके पर सिल्ली स्टेडियम परिसर में वृक्षारोपण भी किया गया।

निर्मल महतो शहादत दिवस के मौके पर राज्य के सभी प्रखंडों में

आजसू पार्टी के कार्यकतार्ओं ने संकल्प सभा कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

राजधानी रांची में पार्टी के कार्यकर्ता जुलूस की शक्ल में निकले और निर्मल महतो चौक स्थित उनकी प्रतिमा पर फूल माला चढ़ाये।

शहीद निर्मल महतो चौक पर माल्यार्पण करने के बाद मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी ने कहा कि

निर्मल महतो जैसे क्रांतिकारी अगुवा ने युवाओं को झारखंड में संघर्ष करने की ताकत दी।

उनके विचार अतुल्य थे। डॉ देवशरण भगत ने कहा कि निर्मल महतो के बलिदान को भुलाया नहीं जा सकता।

वे युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत बने रहेंगे।
राजेंद्र मेहता ने कहा कि निर्मल महतो झारखंड के इतिहास में गौरव बने रहेंगे।

आज वे जिंदा होते, तो शायद झारखंड की दिशा-और दशा कुछ और होती।

रांची में इस मौके पर बनमाली मंडल, कार्यकारी रांची जिला अध्यक्ष संजय महतो, सरजीत मिर्धा,

ललित ओझा, मुनचुन राय, वायलेट कच्छप, सीमा सिंह, गोतम तिवारी, आदिल अजीम,

सुनील यादव, मोहसीन खान, विरेंद्र तिवारी, प्रभा महतो, सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

आजसू ने शहीद निर्मल महतो चौक की सफाई की और सजाया

आजसू छात्र संघ द्वारा शहीद निर्मल महतो चौक की सुंदरीकरण के पश्चात साफ-सफाई एवं साज-सज्जा की गई।

इस मौके पर हरिश कुमार, ओम वर्मा, नितीश सिंह, गदाधर महतो, राजकिशोर महतो, चेतन,

लोबिन महतो, सुशिल महतो, अमन तिवारी, हुसैन अंसारी मुख्य रूप से शामिल थे।

छात्र संघ प्रभारी हरिश कुमार ने कहा कि शहीद निर्मल महतो हम झारखंडी युवाओं के लिए सदेव प्रेरणा के श्रोत बने रहेंगे।

आजसू छात्र संघ के अध्यक्ष गौतम सिंह ने कहा कि

झारखंड अलग राज्य का गठन जिन मकसद को लेकर हुआ था

उसमें निर्मल महतो शहादत दिवस की प्रासंगिकता और ज्यादा हो जाती है।

Please follow and like us:


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.