अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर दोनों देशों के नागरिकों के बीच तनाव सुरक्षा बल तैनात

अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर दोनों देशों के नागरिकों के बीच तनाव सुरक्षा बल तैनात
  • भिखनाठोरी में सीमा पर नागरिकों में तनाव

  • एपीएफ व एसएसबी की पहल पर नियंत्रण

राष्ट्रीय ख़बर

बेतिया : अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर दोनों देशों के नागरिकों के बीच तनाव होने के बाद वहां

सुरक्षा के अतिरिक्त प्रबंध किये गये हैं। पश्चिम चंपारण जिला अंतर्गत नरकटियागंज

अनुमण्डल क्षेत्र के गौनाहा प्रखंड स्थित भिखनाठोरी अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर एक बार फिर

तनाव बढ़ गया है। भिखनाठोरी में स्थिति को संभालने के लिए एसएसबी 44 वीं वाहिनी

मुख्यालय नरकटियागंज के उपसेनानायक शैलेश कुमार सिंह ने अतिरिक्त बल भेजा।

इस दौरान भिखनाठोरी के निवासियों ने सारा गुस्सा एसएसबी के जवानों पर उतारा।

उन्होंने जवानों पर कई आरोप लगाया। भारतीय लोगों का कहना है कि नेपाली

अतिवादियों ने अचानक पत्थरबाजी करना प्रारंभ किया। उसके बाद भारतीयों के विरोध

करने पर खुकुरी निकाल काटने का संकेत किया। फ़िलहाल स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन

दोनों देश के लोगों में तनाव व्याप्त है। उधर एसएसबी के उप सेनानायक(ऑपरेशन)

शैलेश कुमार सिंह ने बताया कि नेपाल एपीएफ के जवानों से वार्ता हुई है और हालात

नियंत्रित है। भारत के लोगों ने कहा कि नेपाल एपीएफ के जवान व पदाधिकारी नेपाली

जनता की समस्या सुनकर उन्हें साथ लेकर कार्रवाई करते हैं। हमारी एसएसबी कुछ

सुनती नहीं, उल्टा दोषी ठहराती हैं। पहले ठोरीवासियो की समस्या सुनकर उसकी वस्तु

स्थिति समझें फिर कार्रवाई कर एपीएफ से वार्ता करें। भिखनाठोरी में नेपाली अतिवादी

दोनों देश की शांतिप्रिय लोगों को भड़का कर सीमा पर तनाव उत्पन्न करने में लगे रहते

हैं। वैसे नेपाल की जनता शांति चाहती है, लेकिन कतिपय अतिवादियों के भड़काने पर

तनाव उत्पन्न हो जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास नेपाली शराब बरामद

भारत – नेपाल सीमा पर 18वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल डी कंपनी ने गुरुवार को भारी

मात्रा में शराब पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। रात्रि गश्ती के दौरान सशस्त्र सीमा बल एवं

थाना आंध्रामठ के जवानों ने एक संयुक्त रात्रि गस्ती कर रहे थे। एक सूचना के आधार पर

सीमा स्तम्भ संख्या 230 एवं 231 के गांव भरफोरी के समीप एक गश्ती पार्टी तस्करों को

चकमा देकर छिपे हुए थे। गस्ती दल को कुछ देर बाद सूचना मिला कि भरफोरी मस्जिद

के पास एक गाड़ी में कुछ सामान है। सूचना मिलते हीं एसएसबी और थाने के कर्मचारी

मस्जिद के पास पहुंचे। कुछ देरी पर उन्होंने देखा कि न्यूड के तरफ से एक गाड़ी तेजी

रफ्तार से मस्जिद के समीप आ रहा है। दोनों पार्टियों ने गाड़ी को समीप आते हीं गाड़ी को

रोकने का इशारा किया। पुलिस होने की भनक लगते ही गाड़ी को तेज रफ्तार में भगाने

लगा। गाड़ी इतनी तेज रफ्तार थी कि कुछ दूरी पर सड़क के गड्ढे पर गाड़ी पलट गई।

पुलिस से भागने में गाड़ी ही पलट गयी

पलटते हैं दोनों बलों ने गाड़ी के समीप पहुंचा तो देखा कि दो व्यक्ति शीशे तोड़कर बाहर

निकल रहे हैं। दोनों व्यक्तियों को पुलिस ने पकड़ लिया। गाड़ी को चेक किया तो उसमें

नेपाली देसी शराब की बदबू आ रही थी। पुलिस ने दोनों व्यक्तियों को अपने कब्जे में

लिया और उसमें नेपाली देसी शराब मामा 300 एमएल के 2375 बोतल मिला। सफारी

गाड़ी जिसका नंबर MH43R3528 है यह सशस्त्र सीमा बल के बलों के द्वारा उप

-निरीक्षक घनाकांता दास ,सहायक उपनिरीक्षक- अरविंद कुमार, सिपाही -रवि कांत ठाकुर

,तरुण प्रताप मल, शंभू यादव ,अजय कुमार, गोविंद नायक, एवं पुलिस आंध्रामठ के

सहायक उपनिरीक्षक राजेश कुमार शर्मा, हवलदार -मनोज ,सिपाही -विनोद सुनील कुमार

मेहता, शामिल थे दोनों ने अपनी सूझबूझ एवं सतर्कता के साथ इस कार्य को अंजाम

दिया। तस्करों को को होश उड़ गए कमांडेंट ने 18वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल के जवानों

को धन्यवाद दिया। पकड़े गए तस्कर का नाम मिथिलेश कुमार पिता- शीतल यादव ,ग्राम

-छीट्टी है एवं दूसरे तस्कर का नाम मोहम्मद मनन, सदर ग्राम गडिया जिला मधुबनी का

रहने वाला है।

Spread the love

Rkhabar

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version